HBSAG Full Form in Hindi » एच.बी.एस.ए.जी. ( हेपेटाइटिस बी ) क्या है ?

हेपेटाइटिस बी जिसे अक्सर HBSAG के नाम से जाना जाता है उसका full form यहाँ पर आप Hindi में पढ़ और जान सकते हैं | जानिए इसके बारे में, इसके लक्षण और होने का कारण पुरे विस्तार में | मनुष्य के शरीर में कई प्रकार के virus अपना कार्य करता है जिससे मनुष्य अक्सर ग्रषित रहता है | इनके इस समस्या की पहचान कई प्रकार के test से किया जाता है | किसी भी समस्या का आभास होने पर डॉक्टर हमे सबसे पहले blood test करने की सलाह देते है | इस blood test में कई प्रकार की test किए जाते है | Blood test में की जाने वाली सभी test में एक HBsAG test भी मौजूद है | आइए आज हम जानते है इसके पूर्ण शब्द विस्तार एवं इससे सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण बातो के बारे में |

HBSAG Full Form in Hindi

HBSAG Full Form in Hindi » एच.बी.एस.ए.जी. क्या है –

 

 

HBsAG = Hepatitis B Virus Surface Antigen (हैपेटाइटिस)

डॉक्टर के द्वारा लिखे गये test HBsAG का पूर्ण शब्द विस्तार Hepatitis B Virus Surface Antigen होता है | जब कोई healthcare provider रक्त जांच करता है तो वह एचबीएसएजी टेस्ट करता है जिससे वह इस बात का पता लगाता है की व्यक्ति हैपेटाइटिस बी वायरस से संक्रमित है या नहीं | इस test में व्यक्ति के खून में अगर यह पाया जाता है तो यह समझा जाता है की व्यक्ति के शरीर में हैपेटाइटिस बी वायरस का संक्रमण है |

 

About Hepatitis B » इसके बारे में  

Hepatitis B मनुष्यो में होने वाला एक संक्रमक रोग है जिसमे मनुष्य का liver में संक्रमण हेपेटाइटिस बी वायरस के द्वारा होता है | कभी कभी यह बीमारी किसी किसी को काफी नुकशान पहुचाता है और उनका liver इस अवस्था में आ जाता है की वे 6 महीने से अधिक नहीं रह पाते | कभी कभी यह संक्रमण कई बड़े बीमारियों का भी रूप ले लेती है जैसे liver failure, liver cancer एवं cirrhosis आदि | इस संक्रमण के कारण हमारे liver में स्थायी घाव भी उत्पन्न हो जाते है |

Hepatitis B Symptoms » लक्षण

अगर आपको निम्न समस्या का अनुभव हो तो आप समझ जाए की आपके शरीर में हेपेटाइटिस बी वायरस का संक्रमण हो गया है |

  • पेट में दर्द,
  • मूत्र का गाढ़ा होना
  • बुखार
  • जोड़ों का दर्द
  • भूख में कमी
  • मतली
  • उल्टी
  • कमजोरी
  • थकान

Causes of Hepatitis B » होने का कारण

यह संक्रामक बीमारी एक से दुसरे को निम्न कारणों से हो सकता है :-

  • Sexual contact – संक्रमित व्यक्ति के साथ sexual contact करने से |
  • Sharing of needles – संक्रमित व्यक्ति के needle का इस्तेमाल से |
  • Mother to child – संक्रमित माँ से गर्भ में पल रहे बच्चे को हो सकता है |

Leave a Comment